दिन के उजाले में हो रहा अवैध मिट्टी खनन, प्रशासन मौन 

 

जिम्मेदार राजस्व,खनन एवं पुलिस विभाग के जिम्मेदार अधिकारियों की कार्यशैली गंभीर सवालिया घेरे में।

अवैध मिट्टी खनन का बड़े पैमाने पर फल-फूल रहा कारोबार।

गोण्डा। योगी सरकार जहां एक तरफ अवैध कार्यों पर लगाम लगाने के निरंतर कागजी दावे करने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ रही है, वहीं स्थानीय प्रशासन के रहमो-करम से धड़ल्ले से अवैध कार्य बदस्तूर जारी है।
मामला जनपद गोंडा के थाना कौड़िया बाजार का है, जहां दिन में ही जमकर मिट्टी खनन का कार्य हो रहा है। यही नहीं स्थानीय पुलिस को सूचना दी गई, जिस पर रैपर मशीन मालिक को थाने बुलाकर फिर मिट्टी खनन चालू करवा दिया गया। जब मशीन मालिक से जानकारी ली गई तो उन्होंने बताया कि थाने से परमीशन लेकर हम मिट्टी खोदते हैं। कल भी लगभग 100 ट्राली मिट्टी गिराया था। थाने में गेट बन रहा था तो हमने काम किया था इसलिए हमे कोई दिक्कत नही होती है। साहब ने कहा है कि जाकर जो काम है कर लो वहीं से परमीशन है और खनन विभाग से कोई परमीशन नही है। ऐसे में जिम्मेदार राजस्व, खनन एवं पुलिस विभाग के जिम्मेदार अधिकारियों की कार्यशैली पर गंभीर सवाल खड़े हो रहे हैं और अवैध मिट्टी खनन के बड़े पैमाने पर फल-फूल रहे इस कारोबार में गठजोड़ उजागर हो रही है। इस संबंध में जब वार्ता करने हेतु अपर जिलाधिकारी से सीयूजी नंबर पर संपर्क करने का प्रयास किया गया तो उनसे संपर्क नहीं हो सका।