दर्जनों ईंट भट्टों पर बिना रॉयल्टी जमा किए हो रहा मिट्टी खनन

दर्जनों ईंट भट्टों पर बिना रॉयल्टी जमा किए हो रहा मिट्टी खनन

सरकार को प्रतिमाह लाखों का लगाया जा रहा है चूना।

रातों-रात जेसीबी से अवैध
तरीके से कराया जा रहा है मिट्टी का खनन

कर्नलगंज, गोण्डा। तहसील क्षेत्र के करीब तीन दर्जन ईंट भट्टों पर बिना रॉयल्टी जमा किए ही मिट्टी खनन कराकर ईंट निर्माण व कारोबार किया जा रहा है। जिससे सरकार को प्रतिमाह लाखों का चूना लगाया जा रहा है। जबकि नियमानुसार ईट भट्टों पर मिट्टी की आवश्यकता के लिए खनन विभाग में रॉयल्टी जमा कर मिट्टी का खनन कराने की अनुमति लिए जाने का प्रावधान है। लेकिन विश्वस्त सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक कर्नलगंज तहसील के करीब 96 ईंट भट्ठों में से 3 दर्जन ईंट भट्ठा मालिक ऐसे हैं जिन्होंने ना तो मिट्टी के लिए रॉयल्टी जमा किया है और ना ही खनन का परमीशन लिया है। फिर भी रातों-रात जेसीबी से अवैध तरीके से मिट्टी का खनन कराया जा रहा है। ग्राम बीबी सिंह बटौरा नहर के आसपास,ग्राम भोंका, पतिसा,मनिकापुर,असरना, अमोढ़वा,सकरौरा ग्रामीण के गज्जू पुरवा,कस्तूरी,मैजापुर, चौरी, हलधरमऊ आदि गांव ऐसे हैं जहां रातों-रात अवैध तरीके से जेसीबी और डंपर,ट्रैक्टर ट्राली चल रही है और बिना किसी अनुमति या रॉयल्टी के मिट्टी का कारोबार किया जा रहा है।