जनता ने भाजपा को नहीं दिया बल्कि सत्ता का दुरुपयोग कर छीनी गई सीट-शमीम अच्छन

छठवें राउंड की घोषणा हुई नहीं और सातवें राउंड का बक्सा आ गया और सपा प्रत्याशी के 730 मतों को कमल-कमल चिल्लाकर अवैध घोषित करके हरा दिया गया चुनाव।

परिसीमन में हिन्दू मुस्लिम मतों के आधार पर खेल कर विधायक के मुताबिक कराया गया परिसीमन उसके बाद वोटर लिस्ट में मुस्लिम मतों को काटने का खेला गया खेल।

कर्नलगंज,गोण्डा। नगर पालिका परिषद की सीट भाजपा को जनता ने नहीं दिया बल्कि सत्ता का दुरुपयोग कर पूरी तानाशाही और दबंगई पूर्वक छीनी गई है,जो बर्ताव आजम खान के साथ हुआ वही प्रशासन ने मेरे साथ किया। उक्त बातें भारत टावर पर आहूत प्रेस वार्ता के दौरान पूर्व चेयरमैन शमीम अहमद अच्छन ने कही। स्थानीय विधायक पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि विधानसभा चुनाव सम्पन्न होने के बाद से ही नगर पालिका कर्नलगंज की सीट छीनने का अभियान शुरू कर दिया गया था,सबसे पहले परिसीमन में हिन्दू मुस्लिम मतों के आधार पर खेल कर विधायक के मुताबिक परिसीमन कराया गया,उसके बाद वोटर लिस्ट में मुस्लिम मतों को काटने का खेल खेला गया, इतना ही नहीं चुनाव नजदीक आते ही हमारे कार्यकर्ताओं का उत्पीड़न शुरू कर दिया गया। पुलिस प्रशासन पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि चुनाव के ठीक चार दिन पूर्व कार्यालय पर खड़ी हमारी गाड़ी कोतवाल सुधीर सिंह जबरन उठा ले गए और बगैर किसी वजह के सीज कर दिए। सपा के कार्यकर्ता साबिर के खिलाफ मुकदमा फर्जी लिख दिया गया और कलीम का 151 के तहत चालान कर दिया गया और इतने से भी सत्ताधारियों का दिल नहीं भरा तो मतदान के दिन मेरे स्वजनों व कार्यकर्ताओं के बाहर निकलने पर पाबंदी लगा दी और स्थानीय विधायक ने कन्हैया लाल इंटर कालेज, पिपरी सहित अन्य बूथों पर दबंगई दिखाई,पीठासीन अधिकारी को मारा पीटा,बूथ कैप्चरिंग की गई। पूर्व चेयरमैन ने आरोप लगाते हुए कहा कि मतगणना में बाहरी लोगो का प्रवेश वर्जित किया गया था लेकिन अन्य भाजपा एजेंटो की तरह भगवा टीशर्ट पहनकर धर्मेन्द्र तिवारी और परसपुर से आए लोग वहां बेरोकटोक टहल रहे थे। उन्होंने प्रशासन और स्थानीय विधायक पर तीखा प्रहार करते हुए कहा कि उन्होंने पहले ही कहा था कि यह सीट हम चाहे जैसे ले लेंगे। शमीम अच्छन ने कहा कि पांचवे राउंड की मतगणना तक सही जानकारी दी गई लेकिन छठवें राउंड की घोषणा हुई नहीं और सातवें राउंड का बक्सा आ गया और मेरे 730 मतों को कमल – कमल चिल्लाकर अवैध घोषित करके हमें चुनाव हरा दिया गया। उन्होंने क्षेत्र की जनता के प्रति आभार व धन्यवाद ज्ञापित करते हुए कहा कि उन्हें जनता ने पूर्ण समर्थन और स्नेह दिया। इस दौरान उनके साथ फहीम अहमद उर्फ पप्पू और खुर्शीद आलम मौजूद रहे।