सड़क की पटरियों पर अतिक्रमण,राहगीर परेशान

ईओ नगरपालिका ने अनाउंसमेंट कराकर अतिक्रमण हटाने की दी चेतावनी

दुकानदारों, ठेले वालों एवं वाहन चालकों ने फुटपाथ पर कर रखा है अवैध कब्जा।

कर्नलगंज, गोण्डा। यातायात को सुलभ बनाने के लिए और राहगीरों की सुविधा के लिए शासन के निर्देश का असर कर्नलगंज कस्बा क्षेत्र की सड़कों पर नहीं दिख रहा है। कस्बे के सभी मार्गों पर बेतरतीब वाहन खड़ा करने वालों का कब्जा होने के साथ ही सब्जी व फल विक्रेता और अन्य दुकानदार भी बड़े पैमाने पर अतिक्रमण किए हुए हैं। जिसके कारण राहगीरों को आवागमन में भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। आपको बता दें कर्नलगंज बस स्टाप चौराहे से गोंडा लखनऊ मार्ग, परसपुर, कटरा बाजार मार्ग सहित कस्बे के सभी मार्गों पर वाहन खड़े रहते हैं। जहाँ वाहन चालक सड़क की पटरी पर वाहन खड़ा करके सवारी बैठाते हैं। इसी के साथ ही सड़कों के किनारे पटरी पर भारी मात्रा में दुकानदारों द्वारा अवैध अतिक्रमण किये जाने से प्रायः जाम की समस्या उत्पन्न हो जाने से आवागमन तो मुश्किल हो ही रहा है वहीं लोगों को दुर्घटना का शिकार भी होना पड़ता है। राहगीरों का कहना है कि अतिक्रमण की वजह से जाम की समस्या से लोग जूझ रहे हैं और काफी परेशानी उठानी पड़ रही है। नगर पालिका प्रशासन द्वारा अतिक्रमण हटाओ अभियान ना चलाने से लोगों को समस्या का सामना करना पड़ रहा है। इसके कारण कस्बे में कर्नलगंज से गोंडा लखनऊ राजमार्ग, परसपुर, कटरा मार्ग, मौर्य नगर चौराहे से घंटाघर चौक -सुख्खा पुरवा तिराहा होते हुए रेलवे क्रासिंग तक, तहसील रोड से हरिदास मंदिर मोड़ सहित सभी मार्गों और कस्बे के अंदर मोहल्लों में सड़क की पटरियों पर दुकानदारों का कब्जा हो गया है। तमाम दुकानदारों ने तो बाकायदा छाजन डाल रखा है और नाले नालियों पर भी कब्जा कर रखा है जिससे सड़क संकरी हो गई है। इसका असर यह है कि आए दिन जाम की समस्या उत्पन्न हो रही है। खासकर स्कूलों की छुट्टी होने पर कस्बे में घंटों जाम की स्थिति बनी रहती है। यही नहीं पटरियों पर अतिक्रमण होने से बाजार आने वाले लोगों को अपने वाहन खड़ा करने में परेशानी उठानी पड़ रही है। इसी क्रम में लगातार मिल रही शिकायतों व खबरों को संज्ञान में लेते हुए नगर पालिका परिषद की अधिशासी अधिकारी ने कस्बे में अनाउंसमेंट कराकर उक्त अतिक्रमण हटाने की लोगों को चेतावनी दी है। अनाउंसमेंट के माध्यम से दुकानदारों, अतिक्रमण कर्ताओं को अवगत कराया गया है कि सड़क के पटरियों पर जो भी अतिक्रमण किए हुए हैं वह शीघ्र हटा लें अन्यथा नगर पालिका परिषद द्वारा बलपूर्वक अतिक्रमण हटाया जायेगा और उस पर होने वाले खर्च की जिम्मेदारी अतिक्रमण कारियों की होगी।

कस्बे को अतिक्रमण व जाम की समस्या से निजात दिलाने के लिए जल्द ही अभियान चलाया जाएगा। इसके लिए एनाउंसमेंट कराकर रणनीति तय की जा रही है। लोगों को चाहिए कि अतिक्रमण स्वयं हटा लें, अन्यथा कर्मचारियों व पुलिस बल के साथ अतिक्रमण हटाया जायेगा और इस अभियान के दौरान उनका सामान जब्त करके अतिक्रमण हटाने पर जो व्यय आयेगा उसे अतिक्रमणकर्ताओं से वसूल किया जायेगा।
प्रियंका मिश्रा,ईओ नगर पालिका परिषद, कर्नलगंज।