मेरा गोण्डा मेरी शान के अन्तर्गत ऐतिहासिक स्वच्छता अभियान का शुभारंभ

प्रशांत कुमार श्रीवास्तव की रिपोर्ट

जनपद में मेरा गोण्डा मेरी शान के अन्तर्गत ऐतिहासिक स्वच्छता अभियान का शुभारंभ

जिला पंचायत अध्यक्ष, माननीय विधायक मेहनौन, मंडलायुक्त, डीएम, एसपी, सीडीओ, नगर पालिका अध्यक्ष व सांसद प्रतिनिधि ने हरी झंड़ी दिखाकर की शुरुआत

पहले चरण अम्बेडकर चौराहे से गोण्डा-लखनऊ मार्ग पर जनपद की सीमा तक 45 किमी. की सड़क को किया गया साफ और स्वच्छ

दूसरे चरण में नगर पालिका/ नगर पंचायतों के लिए आगामी 04 अगस्त को स्वच्छता कार्यक्रम निर्धारित किया गया

 मंडल के अन्य तीनों जनपदों में भी करेंगे लागू- मंडलायुक्त

‘मेरा गोण्डा मेरी शान’ अभियान के अन्तर्गत जनपद गोण्डा मंगलवार को ऐतिहासिक स्वच्छता अभियान का साक्षी बना। शहर के अम्बेडकर चौराहे से वृहद स्वच्छता अभियान की शुरुआत की गई। सुबह आठ बजे अम्बेडकर चौराहे पर गणमान्य अतिथियों एवं जनप्रतिनिधियों द्वारा अभियान को हरी झंड़ी दिखाई गई। लखनऊ की ओर जनपद सीमा तक की 45 किलोमीटर की सड़क की सफाई शुरू की गई।
इस दौरान माननीय जनप्रतिनिधियों और आयुक्त महोदय द्वारा जनपदवासियों से स्वच्छता के इस महाभियान से जुड़ने और प्रतिबंधित सिंगल यूज प्लास्टिक का इस्तेमाल न करने की भी अपील की गई।
कार्यक्रम में माननीय जिला पंचायत अध्यक्ष श्री घनश्याम मिश्र, माननीय विधायक मेहनौन श्री विनय कुमार द्विवेदी, आयुक्त महोदय श्री योगेश्वर राम मिश्र, पुलिस अधीक्षक, मुख्य विकास अधिकारी, नगर पालिका अध्यक्ष गोण्डा उज्मा राशिद, मा० सांसद प्रतिनिधि गोण्डा श्री रमाशंकर मिश्र समेत अऩ्य गणमान्य मौजूद रहे।

अन्य जिलों में भी होगा लागूः मंडलायुक्त

मंडलायुक्त श्री योगेश्वर राम मिश्र जी ने अभियान की प्रशांसा की। उन्होंने कहा कि गोण्डा के इस अभियान से प्रभावित होकर उन्होंने मंडल के तीनों अन्य जिले बहराइच, बलरामपुर और श्रावस्ती के जिलाधिकारियों से भी इसे लागू करने के लिए कहा है। उन्होंने बताया कि उनके स्तर पर बाराबंकी के जिलाधिकारी से भी वार्ता की गई है। इससे स्वच्छता के इस अभियान को लखनऊ की सीमाओं तक पहुंचाया जा सकेगा। उन्होंने जनपदवासियों से इस अभियान से जुड़ने की अपील की। कहा कि स्वच्छता सिर्फ सरकार का विषय नहीं है। बिना जनभागीदारी के इसे प्रभावी ढंग से लागू नहीं किया जा सकता है।

हमारी पहचान हमारे शहर से होती हैः उज्मा राशिद

नगर पालिका अध्यक्ष गोण्डा उज्मा राशिद ने कहा कि हमारी पहचान शहर से ही होती है। पहले जनपद की तस्वीर बेहद खराब थी। केवल देश ही नहीं दुनिया में गंदे शहर के रूप में जाना जाता था। इसे पहचान को खत्म करने के लिए नगर पालिया से लेकर सभी ने मिलकर काफी काम किया है। इससे स्थितियां बदल रही हैं। उन्होंने कहा कि जनपद की इस नई पहचान को बनाए रखना बेहद जरूरी है। इसके लिए सभी जनपदवासियों को आगे आना होगा। स्वच्छता के प्रति अपनी जिम्मेदारी को समझना होगा।

व्यक्तिगत तौर पर लें स्वच्छता का संकल्प

माननीय विधायक मेहनौन श्री विनय कुमार द्विवेदी ने जनपदवासियों को स्वच्छता का संकल्प लेने की अपील की। कहा कि सभी के सम्मिलित प्रयासों से ही स्वच्छता के लक्ष्य को प्राप्त किया जा सकता है। इस दौरान उन्होंने शहरी क्षेत्र में जलभराव की समस्या को भी उठाया और इसके लिए सभी को सहयोग करने की भी अपील की।
जिलाधिकारी ने बताया कि प्रथम चरण में लखनऊ से गोण्डा मार्ग के मुख्य मार्ग को चुना गया है। 45 किलोमीटर के इस मार्ग को 73 जोन में विभाजित कर कार्य कराया जा रहा है।
इसकी निरंतरता बनी रहे इसके क्रम में नगर पालिका/ नगर पंचायतों के लिए आगामी 04 अगस्त को स्वच्छता कार्यक्रम निर्धारित किया गया है। इसमें, सभी अधिकारी एवं कर्मचारी कार्य करेंगे। जनमानस से भी अपील है कि वह इसमें सहयोग करें। इसके अतिरिक्त शहर की सीमा को दूसरे जनपदों से जोड़ने वाले मार्गों पर भी कार्यक्रम संचालित किया जाएगा। जिलाधिकारी ने बताया कि स्वच्छता के इस अभियान को ग्रामों के स्तर पर पहुंचाने का प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने जनपदवासियों से सहयोग की अपील की। घरों में ही गीला और सूखा कूड़ा अलग-अलग करके सफाईकर्मी को देने की अपील की।